Ads (728x90)



गणतंत्र दिवस (Republic Day) भारत का एक राष्ट्रीय पर्व है जो हर वर्ष 26 जनवरी को मनाया जाता है इस दिन भारत एक लोकतांत्रिक गणराज्य घोषित हुआ और भारत में सविधान लागू हुआ भारत अपने गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर हर साल किसी ना किसी को मुख्य अथिति के रूप में आमंत्रित करता है आइये जानते हैं गणतंत्र दिवस का महत्‍व और इतिहास - History and importance of Republic Day

गणतंत्र दिवस का महत्‍व और इतिहास - History and importance of Republic Day

  1. 26 जनवरी 1950 को भारत के पहले प्रधान मंत्री डॉ राजेंद्र प्रसाद ने गवर्मेंट हाउस में राष्ट्रपति की शपथ ली
  2. भारत अपने गणतंत्र दिवस पर हर साल किसी ना किसी को मुख्य अथिति के रूप में आमंत्रित करता है 
  3. भारत के पहले गणतंत्र दिवस के मुख्य अथिति इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुकर्णो थे
  4. इसी दिन सन 1957 से 26 जनवरी को सरकार ने 16 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए राष्ट्रीय बहादुरी पुरस्कार शुरू किया
  5. 26 जनवरी 1965 को भारत को हिंदी राष्ट्र घोषित किया गया था 
  6. भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने 26 जनवरी 1950 को राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया था 
  7. प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने इस दिन इरविन स्टेडियम (Irwin Stadium) में भारतीय तिरंगा फहराया था
  8. 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस समारोह पर भारत के राष्ट्रपति द्वारा भारतीय राष्ट्र ध्वज को फहराया जाता हैं 
  9. गणतंत्र दिवस के दिन वीर चक्र, महावीर चक्र, परमवीर चक्र, कीर्ति चक्र और अशोक चक्र जैसे बहादुरी के सम्‍मान दिए जाते हैं
  10. 26 जनवरी को 21 तोपो की सलामी के साथ देश के राष्‍ट्रपति द्वारा ध्‍वजारोहण किया जाता है  
Tag -Paragraph on Celebration and Importance of Republic Day, Significance and Importance of Republic Day of India, History of Republic Day of India




Post a Comment

1. बैंक मंञ को आपके लिये बनाया गया है।
2. इसलिये हम अापसे यहॉ प्रस्‍तुत जानकारी और लेखों के बारे में आपके बहुमूल्‍य विचार और टिप्‍पणी की अपेक्षा रखते हैं।
3. आपकी टिप्‍पणी बैंक मंञ को सुधारने और मजबूत बनाने में हमारी सहायता करेगी।
4. हम आपसे टिप्पणी में सभ्य शब्दों के प्रयोग की अपेक्षा करते हैं।