Ads (728x90)



भारतीय रिजर्व बैंंक की स्‍थापना 1 अप्रैल 1935 को हिल्‍टन यंग योजना के आधार पर हुई थी और रिजर्व बैंक के कार्य को देखते हुऐ अलग अलग विभाग बनाये गये तो आइये जानते हैं रिजर्व बैंक के विभाग - Department of RBI

रिजर्व बैंक के विभाग - Department of RBI

नोट जारी करने वाला विभाग (Note Issuing department)

इस विभाग को नोट तथा सिक्‍कों को जारी करने और मुद्रा प्रबंधन का कार्य करता है यह विभाग नोट प्रेसों तथा टकसालों को मांग-पत्र प्रस्‍तुत करता है और उसी के आधार पर नोटों और सिक्‍कों की छपाई होती है यह विभाग भारतीय रिज़र्व बैंक के निगम कार्यालयों तथा करेंसी चेस्‍टों और संचलन में उपलब्‍ध बैंक नोटों के भंडार का लेखा-जोखा भी रखता है यह विभाग भारतीय रिज़र्व बैंक नोट वापसी विनियमावली लागू करता है इसमें उन परिस्थितियों का उल्‍लेख है जिनके अंतर्गत कटे-फटे तथा विरूपित बैंक नोटों के मूल्‍य का भुगतान किया जा सकता है  संचलन में न रहने योग्‍य गंदे बैंक नोट नष्ट करने हेतु चलन से हटा लिये जाते हैं यह विभाग समय-समय पर बैंक नोटों में शामिल करने हेतु विभिन्‍न सुरक्षा विशेषताओं की समीक्षा करता है यह विभाग भारतीय रिज़र्व बैंक नोट मुद्रण प्राइवेट लिमिटेड हेतु नोडल डिपार्टमेंट के रूप में भी कार्य करता है

बैकिंग विभाग  (Banking department)

रिजर्व बैंक सरकार के बैंकर के रूप में कार्य करता है और यह बैकों का बैंक कहते हैं यह चार विभागों में कार्य करता है
  1. राजकीय ऋण 
  2. राजकीय लेखा
  3. जमानत
  4. जमा खाता 

कृषि साख विभाग (Agricultural credit department)

इस विभाग का काम कृषि साख के विषय में छानबीन करना है यह मुम्‍बई, नई दिल्‍ली, कोलकाता, चेन्‍नई में क्षेत्रीय कार्यलय में स्‍िथत है इसके चार हिस्‍से हैं 
  1. वित्‍त तथा निरीक्षण
  2. योजना तथा व्‍यवस्‍था 
  3. सहकारी प्रशिक्षण और प्रकाशन 
  4. हथकरघा-वित्‍त  

विनिमय नियंत्रण विभाग (Exchange control department)

इस विभाग का काम विदेशी विनिमय पर नियंत्रण रखना है इसकी शाखाऐं नई दिल्‍ली, मुम्‍बई, कोलकाता, चेन्‍नई और कानपुर में हैं 

निरीक्षण विभाग (Inspection department)

यह विभाग केन्‍द्रीय बैक के विभिन्‍न ऑफिसों की समय-समय पर जॉच करता है  इस विभाग का कार्य सुधार हेतु समुचित सुझाव देना ताकि कार्यनिष्‍पादन के स्‍तर में और वृद्धि की जा सके

Tag - RBI to set up separate Enforcement Department, Reserve Bank of India, 




Post a Comment

1. बैंक मंञ को आपके लिये बनाया गया है।
2. इसलिये हम अापसे यहॉ प्रस्‍तुत जानकारी और लेखों के बारे में आपके बहुमूल्‍य विचार और टिप्‍पणी की अपेक्षा रखते हैं।
3. आपकी टिप्‍पणी बैंक मंञ को सुधारने और मजबूत बनाने में हमारी सहायता करेगी।
4. हम आपसे टिप्पणी में सभ्य शब्दों के प्रयोग की अपेक्षा करते हैं।