Ads (728x90)



स्वतंत्रता के बाद 15 मार्च 1950 को तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नहरू ने योजना आयोग (Yojna Aayog) का गठन किया था जो सीधे भारत के प्रधानमंत्री को रिपोर्ट करता है इसका मुख्य कार्य पांच वर्षीय योजनाएँ बनाना है भारत के प्रधानमंत्री योजना आयोग का अध्यक्ष, एक उपाध्यक्ष एवं वित्तमंत्री और रक्षामंत्री पदेन सदस्य के रूप में भूमिका निभाते हैं वर्ष 2015 में इसका नाम बदलकर नीति आयोग (NITI Aayog) कर दिया गया तो आइये जानते हैं जानें नीति आयोग के बारे में - Know About the Policy Commission Hindi

जानें नीति आयोग के बारे में - Know About the Policy Commission

जानें नीति आयोग के बारे में - Know About the Policy Commission/niti aayog in hindi

  • 15 अगस्त 2014 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी योजना आयोग को भंग कर इसके स्थान पर 1 जनवरी 2015 को नीति आयोग (NITI Aayog)  का गठन किया है
  • इस आयोग की वैठक की अध्यक्षता देश का प्रधानमंत्री ही करते हैं 
  • प्रधानमंत्री के पदेन अध्यक्ष होने के साथ, समिति में एक नामजद उपाध्यक्ष भी होता है
  • जिसका रैंक एक कैबिनेट मंत्री के बराबर होता है

नीति आयोग का कार्य - Work of policy commission

  1. देश के संसाधनों का आकलन करना
  2. इन संसाधनों के प्रभावी उपयोग के लिए पंचवर्षीय योजनाओं का निर्माण करना
  3. देश में उपलव्ध संसाधनों के प्रभावी उपयोग के लिए पंचवर्षीय योजनाओं का निर्माण करना
  4. देश की प्राथमिकताओ का निर्धारण और योजनाओ की लिए संसाधनों का आवंटन करना
  5. आर्थिक विकास को बाधित करने वाले कारकों किम पहचान करते हुए उनका निस्तारण करना

नीति आयोग के उपाध्यक्ष - Deputy Chairman of the Policy Commission

  1. गुलजारी लाल नंदा
  2. टी कृष्णमाचारी
  3. सी सुब्रह्मण्यम
  4. पी एन हक्सर
  5. मनमोहन सिंह
  6. प्रणब मुखर्जी
  7. के सी पंत
  8. जसवंत सिंह
  9. मधु दंडवते
  10. मोहन धरिया
  11. आर के हेगड़े
  12. मोंटेक सिंह अहलूवालिया
  13. अरविन्द पनगढ़िया
  14. डॉ. राजीव कुमार





Post a Comment

1. बैंक मंञ को आपके लिये बनाया गया है।
2. इसलिये हम अापसे यहॉ प्रस्‍तुत जानकारी और लेखों के बारे में आपके बहुमूल्‍य विचार और टिप्‍पणी की अपेक्षा रखते हैं।
3. आपकी टिप्‍पणी बैंक मंञ को सुधारने और मजबूत बनाने में हमारी सहायता करेगी।
4. हम आपसे टिप्पणी में सभ्य शब्दों के प्रयोग की अपेक्षा करते हैं।