Ads (728x90)



फेनी तूफान (Fani cyclone) ओडिशा और दक्षिण पूर्व के तटवर्ती और पूर्वी क्षेत्रों में मई 2019 में आया Fani cyclone भारी तबाही मचा रहा है इसी तरह के अजीब नाम वाले चक्रवाती तूफान पहले भी आये हैं लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि तूफानों के नाम कैसे रखे जाते हैं अगर नहीं तो जानते हैं फेनी तूफान क्‍या है what is Fani cyclone in Hindi

फेनी तूफान क्‍या है what is Fani cyclone in Hindi

फेनी तूफान क्‍या है what is Fani cyclone in Hindi

देश के तटवर्ती क्षेत्रों में आने वाले चक्रवातों को विभिन्न नामों से पुकारा जाता है, वर्ष 2018 में केरल और तमिलनाडू में आए तूफान का नाम तितली रखा गया था और 2019 आये तूफान का नाम फेनी (Fani) रखा गया है तो आखिर कैसे रखे जाते हैं नाम - 

असल में समय समय आने वाले तूफानों के नाम को लेकर कोई विवाद न हो इसलिये इसके लिये एक संस्‍था बनाई गयी है जिसका नाम है World Meteorological Organisation (WMO) । इसके तहत चक्रवात जिस क्षेत्र में उठ रहा है उसके आसपास के देशों का एक समूह नामों की एक लिस्ट तैयार करता है। इसी में से साइक्लोन या समय-समय पर उठने वाले तूफान का नाम तय होता है। पिछले साल 2018 में बंगाल की खाड़ी से चले तूफान को 'तितली' नाम दिया गया था. यह 'तितली' नाम पाकिस्तान ने दिया था 

हर तूफान के नाम का एक अर्थ होता है इसी तरह फेनी का मतलब है सांप और इसे यह नाम बांग्लादेश से मिला है। इसका स्थानीय उच्चारण फानी बताया जा रहा है

उत्तरी हिंद महासागर में आने वाले Tropical cyclone के नाम आठ देश भारत, श्रीलंका, बांग्लादेश, मालदीव, म्यांमार, ओमान, पाकिस्तान और थाइलैंड तय करते हैं। प्रत्‍येक देश भविष्‍य में आने वाले तूफान के लिये के World Meteorological Organisation को आठ-आठ नामों की एक सूची देता है और अगर इन आठ देशों में अगर कोई चक्रवाती तूफान आता है तो भेजे गए 64 नामों की सूची में से बारी-बारी से एक नाम चुना जाता है। 

World Meteorological Organisation ज्यादा भयंकर तबाही मचा चुके तूफान का नाम सूची से रद्द कर दिया जाता है और कम तबाही वाले तूफानों को सूची में रखा जाता है इसलिये हो सकता है कोई एक नाम वाला तूफान दोबारा आ जायें यह परंपरा सभी जगह एक जैसी है। 

भारत ने इस सूची के लिए अग्नि आकाश, बिजली, जल, लेहर, मेघ, सागर और वायु नाम का सुझाव दिया है। वहीं, पाकिस्तान ने 'निलोफर', 'बुलबुल' और 'तितली' जैसे नाम दिए हैं।




Next
This is the most recent post.
Previous
Older Post

Post a Comment

1. बैंक मंञ को आपके लिये बनाया गया है।
2. इसलिये हम अापसे यहॉ प्रस्‍तुत जानकारी और लेखों के बारे में आपके बहुमूल्‍य विचार और टिप्‍पणी की अपेक्षा रखते हैं।
3. आपकी टिप्‍पणी बैंक मंञ को सुधारने और मजबूत बनाने में हमारी सहायता करेगी।
4. हम आपसे टिप्पणी में सभ्य शब्दों के प्रयोग की अपेक्षा करते हैं।